Lifestyle

Kidney Problem : इन खाने के चीज़ो से होती है किडनी खराब, बचाना है तो छोड़ें यह खाना

Bad Foods For Kidney : कडनी शरीर का एक बहुत ही जरुरी अंग है, अगर इसका ध्यान न रखा जाये तो जान का खतरा भी हो सकता है। इसी के चलते आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ ऐसी खाने की चीज़ो के बारे में बतायेगे जिनसे आपकी किडनी को नुकसान हो सकता है।

एक स्वस्थ शरीर के लिए किडनी काफी अहम् होती है, क्योंकि इससे हमारा खून साफ होता है और शरीर से टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकलते हैं। लेकिन कुछ ऐसी खाने की चीज़े भी है जो किडनी ख़राब कर सकती है। इसके अलावा डायबिटीज की बीमारी भी किडनी को खराब करती है। इसीलिए किडनी को खराब होने से बचाने के लिए बल्ड शुगर को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी है। तो अब जानते है की गुर्दे को कैसे ख़राब कर सकती है डायबिटीज की बीमारी।

डायबिटीज कैसे ख़राब करती है किडनी?

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक जब ब्लड शुगर का लेवल कंट्रोल के बाहर हो जाता है, तो वह किडनी में ग्रुप ऑफ ब्लड वेसेल्स को खराब कर देता है। किडनी में मौजूद जब ये खून की नसें कमजोर होने लगती हैं, तब किडनी सही तरीके से खून साफ नहीं कर पाती है, जिसके कारण हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत होने लगती है और किडनी ख़राब भी हो सकती है।

स्वस्थ किडनी के लिए कैसे कंट्रोल करें शुगर:

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार किडनी की बीमारी से परेशान मरीज की डायबिटीज कंट्रोल में रहना बहुत जरुरी है। जिसके लिए उन्हें अपने दैनिक दिनचर्या में बदलाव लाने चाहिए, जैसे-

  • स्ट्रेस नहीं लेना,
  • नियमित रूप से व्यायाम एवं डेली योग करना,
  • खाने का ख्याल रखना,
  • कम गुस्सा करना,
  • ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखें,
  • अगर आपको लंबे समय से पेट दर्द है, तो सोनोग्राफी की जांच कराएं और आईजीए नेफ्रोपैथी टेस्ट कराएं।

किडनी प्रॉब्लम में इन खाने की चीज़ो से दुरी बना लें:

  • ज्यादा नमक का सेवन न करें।
  • हाई पोटैशियम वाली साग-सब्जी से दूर रहें। (जैसे – टमाटर, आलू, संतरा, कीवी, एवोकाडो आदि।)
  • दूध, दही और पनीर से दूरी बना ले, क्योंकि इसमें फास्फोरस ज्यादा मात्रा में होता है।
  • डिब्बाबंद चीज़ों का सेवन न करें।
  • ड्राई फिश, अचार और सॉफ्ट ड्रिंक्स का सेवन न करें।

(Disclaimer : यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारियों एवं घरेलू नुस्खों पर आधारित है। इसे अपनाने से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर लें। Bhagya Vidhata इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

View Comments

Share
Published by
Bhagya Vidhata