गोरखपुर के गोलघर में रव‍िवार को नो पार्किग से वाहन उठाने पर भाजपा पार्षदों ने कर्मचार‍ियों के साथ मारपीट की। इस मामले में कर्मचार‍ियों ने पुल‍िस को तहरीर दी है। पढ़िए पूरा मामला निचे।

BJP
BJP

गोरखपुर, उत्तरप्रदेश। घटना गोरखपुर के गोलघर की है। जहा से नो पार्किंग से कार उठाने पर भारतीय जनता पार्टी के पार्षदों ने जमकर बवाल किया। पार्षद पुलिस लाइन के यार्ड में घुस गए और कर्मचारियों से लड़ाई कर उन्हें पीटना शुरू कर दिया। कर्मचारियों ने जब पुलिस बुलाई तो पार्षद उनसे भी उलझ लिए। जिसके बाद कर्मचारियों ने पुलिस को तहरीर दे दी है।

भारतीय जनता पार्टी के 3 पार्षद दो कार से गोलघर में गए थे। और कार सड़क पर खड़ी कर वह दूसरी जगह चले गए। जिसके बाद नगर निगम की ओर से निर्धारित एजेंसी के कर्मचारियों ने नो पार्किंग में कार देखी तो कार हटाने की चेतावनी दी। चेतावनी के बाद भी कोई कार हटाने नहीं आया तो कर्मचारी कार लेकर पुलिस लाइन चले गए। जिसके बाद भाजपा पार्षदों ने गुस्से में कर्मचारियों से साथ मार्पर्ट की।

कर्मचार‍ियों को गाली दी, फिर मारपीट की:

एजेंसी के कर्मचारियों का आरोप है कि थोड़ी देर बाद 3 लोग पहुंचे और खुद को भारतीय जनता पार्टी का पार्षद बताते हुए गाली – गलोच करने लगे। कर्मचारियों ने जब नो पार्किंग में कार खड़ी होने की बात की जानकारी दी तो पार्षद भड़क गए। आरोप है कि पार्षदों ने फिर कर्मचारियों को पीटना शुरू कर दिया। जिसके बाद कर्मचारियों ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस लाइन में लड़ाई की जानकारी मिलते ही जटेपुर पुलिस के साथ ही भारी संख्या में पुलिसबल इकट्ठा हो गया। जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने पार्षदों को समझाना शुरू किया।

आरोप यह भी है कि पार्षद पुलिसकर्मियों से भी उलझ गए। जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने अपना सख्त रुख अपनाया तब पार्षद शांत हुए। जटेपुर चौकी प्रभारी संजय कुमार गुप्ता ने कहा कि विवाद होने की सूचना पर पहुंचे थे। कुछ लोग खुद को पार्षद बताकर हंगामा कर रहे थे। पुलिस के आने पर वह वाहन लेकर चले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.